Start Planning
वसंत पंचमी

वसंत पंचमी 2019 और 2020

भारत में, वसंत पंचमी की त्यौहार एक मुख्य हिन्दू त्यौहार है जिसे कई सारे लोग मानते हैं और इस दिन सार्वजनिक अवकाश घोषित किया जाता है। ये त्यौहार सर्दी के मौसम के खत्म होने को और बसंत ऋतु की शुरुवात को दर्शाता है। हिन्दू पंचांग में ये हर साल माघ के महीने में पड़ता है, जो की ग्रेगोरिन कलेंडर के हिसाब से जनवरी या फरवरी के महीने का समय होता है।

सालतारीखदिनछुट्टियांराज्य / केन्द्र शासित प्रदेश
201910 फरवरीरविवारवसंत पंचमी HR, OR, PB, TR &
WB
202030 जनवरीगुरूवारवसंत पंचमी HR, OR, PB, TR &
WB

वसंत पंचमी के दिन जिन हिन्दू देवी को मुख्य रूप से पूजा जाता है वो माता सरस्वती है, जिन्हें की “ज्ञान की देवी” माना जाता है। माना जाता है कि माता सरस्वती का वास विज्ञान, कला और रचना के सभी क्षेत्रों में होता है। और इसी कारण से स्कूली बच्चे नई कक्षा में जाने से पहले, इन्हें अपने उपयोग में लाने वाला सारा सामान, जैसे की पेंसिलें, पेन और किताबें भेंटस्वरुप चढ़ाते हैं, ताकि उन्हें इनका आशीर्वाद मिल सके।

साथ ही में, इस त्यौहार के अवसर पर कई छोटी बालाएँ पीले कपड़े पहनती हैं। भारत में पीले रंग को बसंत ऋतु का रंग माना जाता है, और इस दिन कई लोग भगवन को पीले फूल चढ़ाते हैं। इस समय खेत भी पीले रंग के लगते हैं क्यूँकि इसी समय सरसों भी पूरी तरह से खिल कर तैयार हो चुकी होती है।

इस त्यौहार के अवसर पर केसरहलवा नाम की एक पीली मिठाई खाई जाती है, जो की उसमे केसर पड़े होने के कारण पीले रंग की होती है। केसर में मेवा, चीनी, इलायची, और आटा पड़ा हुआ होता है।

Accept